मोबाइल जुआ साइट

Publishing time:2022-01-25 00:41:51

betway पार्टनर्स मोबाइल जुआ साइट betway फ्री बेट,fun88 पोकर APK,lovebet 5 बोनस,lovebet घंटा,lovebet टेलीग्राम ग्रुप,3 रील स्लॉट मुफ्त ऑनलाइन,बैकारेट और संभावना,हजारों में से बैकारेट,बेस्ट ऑफ फाइव एक्सेल,बुकमेकर ऑड्स सिस्टम,कैसीनो l'auberge बैटन रूज,सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठा के साथ शतरंज और कार्ड,उर्दू में क्रिकेट की किताब,क्रिकेट कल,यूरोपीय चैम्पियनशिप,फुटबॉल सट्टेबाजी का ज्ञान,जी रम्मी,खुश किसान हम्फ्री,मैं प्यार करता हूँ,जैकबॉक्स गेम्स जूम,ला लीगा फुटबॉल चैलेंज,लाइव कैसीनो ज्यूरिख,लॉटरी खेला रात,लूडो ज़िप,ऑनलाइन कैसीनो 18 साल पुराना,ऑनलाइन गेम रोबोक्स,ऑनलाइन स्लॉट कानूनी,पोकर 007 फिल्म,पोकर जीतने वाले हाथ क्रम में,रूले तेलुगु में,रम्मी डेली प्रो,रश फिशिंग की वेस्ट,असली पैसे के लिए स्लॉट खेल,खेल ऊ,तीन पत्ती गेम डाउनलोड,नवीनतम यूरोपीय कप फुटबॉल रैंकिंग,आभासी क्रिकेट क्लेटन ओवल,वाइल्डज़ डाउन,ipl सबसे तेज शतक,करीना न्यूज़,क्रिकेट लाइव वीडियो,छोटा लॉटरी,पांच स्कोर मार्क सिक्स लॉटरी,बरसात मौसम,रमी रियल कैश,स्टेटस धोखेबाज, .पहली छमाही में 36,342 करोड़ रुपये की बैंकिंग धोखाधड़ी के 4,071 मामले दर्ज : आरबीआई

मोबाइल जुआ साइट

मुंबई, 28 दिसंबर (भाषा) चालू वित्त वर्ष (2021-22) की पहली छमाही में विभिन्न बैंकिंग कामकाज में धोखाधड़ी के मामले बढ़कर 4,071 हो गए, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में यह संख्या 3,499 थी।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की बैंकिंग प्रवृत्ति एवं प्रगति के बारे में मंगलवार को जारी रिपोर्ट में कहा गया कि बैंकिंग कामकाज से संबंधित धोखाधड़ी के मामले बढ़ गए हैं। हालांकि, अप्रैल-सितंबर, 2021 के दौरान हुई धोखाधड़ी में शामिल रकम 36,342 करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले की समान अवधि में 64,261 करोड़ रुपये थी।

चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में बैंकों ने 35,060 करोड़ रुपये मूल्य के अग्रिम भुगतान से संबंधित धोखाधड़ी के 1,802 मामले दर्ज किए। इसके अलावा 1,532 मामले कार्ड भुगतान एवं इंटरनेट भुगतान से संबंधित थे जिनकी कुल राशि 60 करोड़ रुपये थी।

रिपोर्ट कहती है कि पहली छमाही में जमाओं से संबंधित धोखाधड़ी के 208 मामले सामने आए जिसमें 362 करोड़ रुपये की राशि का हेरफेर किया गया।

बैंकिंग धोखाधड़ी के मामले में एक खास बात यह है कि इसमें आधे से भी अधिक हिस्सा निजी क्षेत्र के बैंकों का है। लेकिन मूल्य के संदर्भ में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का हिस्सा इस धोखाधड़ी में अधिक रहा है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक सार्वजनिक बैंकों में कर्ज संबंधी धोखाधड़ी ज्यादा हुई है जबकि कार्ड एवं इंटरनेट भुगतान और नकदी संबंधी गड़बड़ियां निजी बैंकों में ज्यादा हुई हैं।

वहीं वित्त वर्ष 2020-21 में 1,38,422 करोड़ रुपये मूल्य के कुल 7,363 धोखाधड़ी मामले दर्ज किए गए थे। यह संख्या वर्ष 2019-20 में 8,703 थी, जिनमें 1,85,468 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी हुई थी। इस तरह 2020-21 में बैंकिंग धोखाधड़ी के मामले एक साल पहले की तुलना में कम हो गए।

रिपोर्ट कहती है कि वर्ष 2020-21 में सामने आए कई मामले असल में पहले के थे लेकिन इस समय उन्हें दर्ज किया गया। इस अवधि में निजी बैंकों का अंशदान धोखाधड़ी की मात्रा एवं मूल्य दोनों में अधिक रहा।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

An IIT grad, some graphene, a supercapacitor: behind Log 9’s EV batteries that charge in 30 minutes
Innovation

An IIT grad, some graphene, a supercapacitor: behind Log 9’s EV batteries that charge in 30 minutes

11 mins read
It’s good for the planet and can make money, too: inside JSW Energy’s decision to go green
Renewables

It’s good for the planet and can make money, too: inside JSW Energy’s decision to go green

8 mins read
After the warm reception of India’s climate-change targets at COP26, here are some cold truths
Climate Change

After the warm reception of India’s climate-change targets at COP26, here are some cold truths

9 mins read

रम्मी टूर्नामेंट ऐप डाउनलोड
गोल्डन कैसीनो का अनुभव करने के लिए साइन अप करें
लाइव बैकारेटा कहाँ है
फुटबॉल एशियाई खेल का विश्लेषण कैसे करें
cricket माहिती
क्रिकेट 6 गेंद 6 छक्का
ऑनलाइन गेम ब्राउज़र
बीटीविन ई बाइक
betway टर्नओवर
कैसीनो पेपैल
रमी रंधावा सॉन्ग
क्लासिक रम्मी मालिक
तीन स्कोर एक्सप्रेस 3
बकरा डांस
आईपीएल वीडियो 2021
क्रिकेट ओलंपिक्स
फुटबॉल8k
बैकारेट status
स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit